पंजाब: भगोड़े अमृतपाल का करीबी पप्पलप्रीत होशियारपुर से गिरफ्तार, DGP ने दी थी चेतावनी

पंजाब: खालिस्तानी समर्थक भगोड़े अमृतपाल सिंह का करीबी पप्पलप्रीत सिंह को पंजाब के होशियारपुर से गिरफ्तार किया गया है।स्पेशल सेल के साथ पंजाब पुुलिस ने पप्पलप्रीत को धर दबोचा है। इससे पहले पंजाब के डीजीपी गौरव यादव ने बड़ा बयान दिया था और कहा था कि पाकिस्तान की ISI के मंसूबों को पंजाब में सफल नहीं होने दिया जाएगा…पंजाब के लोग विकास और शांति चाहते हैं…हम वांछितों को पकड़ेंगे। अमृतपाल सिंह को भी जल्द गिरफ्तार किया जाएगा।

 

डीजीपी ने दी थी चेतावनी

 

 

अमृतसर के गोल्डन टेम्पल पहुंचने पर डीजीपी गौरव यादव ने कहा था कि आज मैं दरबार साहिब माथा टेककर पंजाब में अमन और शांति के लिए प्रार्थना करने आया हूं। पाकिस्तान की ISI के नापाक इरादों को कामयाब नहीं होने देंगे। पंजाबी विकास और शांति चाहते हैं…जो भी शख्स(अमृतपाल सिंह) वांछित है उसे हम पकड़ेंगे।

 

 

अलग-अलग डेरों में रह रहे थे अमृतपाल-पप्पलप्रीत

पंजाब पुलिस की जांच में खुलासा हुआ था कि खालिस्तानी उपदेशक अमृतपाल सिंह और उसका सहयोगी पापलप्रीत सिंह कार्रवाई के बाद अलग-अलग डेरों में शरण ले रहे थे। ये भी कहा गया था कि भगोड़े अमृतपाल सिंह और उसके सहयोगियों ने जालंधर, होशियारपुर और अमृतसर जिलों में और उसके आसपास शरण ले रखी है। पुलिस ने पाया कि अमृतपाल और पप्पलप्रीत फगवाड़ा कस्बे के तीन अलग-अलग डेरों, नादलोन गांव और बीबी गांव में रुके थे।

अमृतपाल सिंह का तब से पता नहीं चल रहा है जब से पंजाब पुलिस ने उसके खिलाफ मेगा-कार्रवाई शुरू की है। अमृतपाल सिंह और उसके खालिस्तान समर्थक ‘वारिस पंजाब दे’ संगठन के सदस्य 18 मार्च से ज्यादा एक्टिव हो गए थे लोगों को भड़का रहे थे। अमृतपाल ने गृहमंत्री अमित शाह को धमकी तक दे डाली थी।

 

NEWS SOURCE : indiatv

Related Articles

Back to top button