मानव रचना में आयोजित हुआ दो दिवसीय इनोस्किल एनुअल टेक्निकल फेस्टिवल

Faridabad : मानव रचना शैक्षणिक संस्थान (एमआरईआई) के दो दिवसीय वार्षिक तकनीकी फेस्टिवल “इनोस्किल 2023” का गुरुवार को समापन हुआ। फेस्टिवल में ओपी जिंदल, गलगोटिया, शिव नादर यूनिवर्सिटी, आईपीयू, डीयू, चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी, जेसी बोस व यूपीईएस सहित करीब 35 उच्च शिक्षण संस्थानों से प्रतिभागियों ने भाग लिया। बतौर प्रायोजक लांसर, टेक शेफ, एडवॉय स्टडी एबरॉड, स्किल बाउट प्रोफेशनल, आईएसीएल आरएंडडी, डीईएआरसी आदि कंपनियों ने भी भागीदारी निभाई।
पहले दिन उद्घाटन सत्र में बतौर मुख्य अतिथि पहुंचे इंडोऑटो टेक लिमिटेड के वाइस प्रेजिडेंट एसके जैन जिन्होंने दीप जलाकर कार्यक्रम का शुभारंभ किया।
इस दौरान एमआरआईआईआरएस के प्रो वाइस चांसलर डॉ. नरेश ग्रोवर, एमआरआईआईआरएस रजिस्ट्रार डॉ. आरके अरोड़ा, रजिस्ट्रार एमआरयू कामेश्वर सिंह, डीन फैकल्टी ऑफ अप्लाइड साइंसेज और प्रो वाइस चांसलर एमआरआईआईआरएस प्रो. जीएल खन्ना, प्रो वीसी एमआरयू डॉ. संगीता बांगा, स्पोर्टस डायरेक्टर श्री सरकार तलवार आदि उपस्थित रहे। वहीं दूसरे दिन आयोजित हुए पुरस्कार वितरण समारोह में एमआरआईआईआरएस के वाइस चांसलर डॉ. संजय श्रीवास्तव बतौर मुख्य अतिथि मौजूद रहे। उन्होंने छात्रों को संबोधित करते हुए जीवन में प्रेम, ममता, जुड़ाव और समर्पण को ऊर्जा का आधार बताया। उन्होंने कहा कि जब आप इन गुणों के साथ कुछ करने का प्रयास करेंगे तभी कुछ बेहतर और रचनात्मक कर सकेंगे।
इसके बाद सभी श्रेणियों में विजेताओं को प्रमाण पत्र और कैश प्राइज देकर सम्मानित किया। इस दौरान प्रो वीसी डॉ. नरेश ग्रोवर, प्रो वीसी डॉ. प्रदीप कुमार, रजिस्ट्रार आरके अरोड़ा, प्रिंसिपल एमआरडीसी डॉ. अरुणदीप सिंह, आदि उपस्थित रहे। कार्यक्रम के समापन पर डॉ. दीपा बूरा ने सभी का आभार जताया। 1500 से ज्यादा छात्रों ने लिया भाग फेस्टिवल के तहत कुल आठ थीमों में 40 प्रतियोगिताएं और 21 प्रदर्शनियों का आयोजन किया गया। विभिन्न संस्थानों से आए प्रतिभागियों ने इंजीनियरिंग और डिजाइन- इनोस्किल स्क्वायर चैलेंज, हेल्थकेयर मिस्ट्री व कुलिनरी सक्सेसर, मीडिया और लाइब्रेरी स्टम्पर, स्पोर्ट्स पायनियर, एडवांस गार्ड, लॉ नॉट, बिजनेस एंड मैनेजमेंट कॉनड्रम और सोशल स्पेक्ट्रम थीमों में प्रतिभा दिखाई। सभी श्रेणियों में छात्रों ने इनोवेटिव प्रोजेक्ट्स पेश किए। इनमें करीब 1500 प्रतिभागियों ने भाग लिया। विजेताओं को करीब 1.70 लाख रुपये के पुरस्कार वितरित किए गए।

Related Articles

Back to top button